हरी नाम की माला जप ले ll,
“पल की खबर नही,,ओ, xll”
अन्तरघट मन को मथ ले,
“पल की खबर नही,,ओ, xll”
हरी नाम की माला,,,,,,,,,,,,,

नाम बिना ये तेरा, “जीवन अधूरा है” l
घाटा सत्संग बिना, “होता नही पूरा है” ll,,
तेरी बीती उमरिया सारी ll,
“पल की खबर नही,,ओ, xll”

रिश्तेदार सारे यहाँ, “मतलब के यार हैं” l
क्यों मुँह लगाना ये तो, “झूठा संसार है” ll,,
प्रभु नाम से प्रीत लगा ले ll,
“पल की खबर नही,,ओ, xll”

पर उपकार करे जो, “वो सच्चा इंसान है” l
नाम प्याला जिसने, “पिया वो महान है” ll,,
उसकी सतगुरु करे रखवाली ll,
“पल की खबर नही,,ओ, xll”

कितना प्यारा तन ये तेरा, “प्रभु ने बनाया है” l
माया धन सुख में तूने, “नाम को भुलाया है” ll,,
गुरु शरन आ भूल सुधारी ll,
“पल की खबर नही,,ओ, xll”

कर्म कांड सारे बिना, “नाम के बेकार है” l
सेवा व्रत सुमिरन प्रभु, “मिलन के द्वार है” ll,,
हरि नाम को तूँ अपना ले ll,
“पल की खबर नही,,ओ, xll”

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा
गौरी व्रत

गुरूवार, 11 जुलाई 2024

गौरी व्रत
देवशयनी एकादशी

बुधवार, 17 जुलाई 2024

देवशयनी एकादशी

संग्रह