नाम तुम्हारा तारनहारा,कब तेरा दर्शन होगा,
जिस की रचना इतनी सुंदर वो कितना सुंदर होगा

सुर नर मुनि जन तुम निष् दिन शीश निभाते है,
जो गाते है तेरी महिमा मन वांचित फल पाते है,
धन्ये घडी समजू गी उस दिन जब तेरा दर्शन होगा,
नाम तुम्हारा तारनहारा,

दीं दयालु करुणासागर जग में नाम तुम्हारा है,
भटके हुए हम भक्तो का ही तुही एक सहारा है,
जग में पार उतर ने को तेरी भक्ति का सुमिरन होगा,
नाम तुम्हारा तारनहारा…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह