ॐ नमो नारायणाय, ॐ नमो नारायणाय, ॐ नमो नारायणाय।
नारायण श्री नारायण, भज ले रे मन नारायण।
भवभय भंजन, जन मन रंजन, संकट मोचन, पाप विमोचन॥

हठ योगी अपनी हठ साधे, मन को मारे, तन को बांधे।
हरी के मिलन की यह रीत नहीं, हरी के मिलन का एक ही साधन॥

जीवन बलि दे कहे, पुजारे, पूरण होवे आस हमारी।
हिंसा से हरी दूर रहें हैं, दया अहिंसा हरि मन भावन॥

मात पिता है नारायण, बंधू सखा है नारायण।
गुरु की विद्या नारायण, योग तपस्या नारायण॥

नारायण श्री नाथ हरे,नाथ हरे श्री नाथ हरे।
नारायण श्री नारायण, नारायण श्री नारायण॥

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा
गौरी व्रत

गुरूवार, 11 जुलाई 2024

गौरी व्रत
देवशयनी एकादशी

बुधवार, 17 जुलाई 2024

देवशयनी एकादशी

संग्रह