विघ्न हरण मंगल करण गौरी पुत्र गणेश,
नंद के दाता प्रभू काटो सकल कलेश…..

गणपति गणेश काटो कलेश,
विघ्न हरोऔर मंगल कर दो,
आनंद के दाता आनंद कर दो,
आनंद आनंद आनंद भर दो,
सबसे पहले हम तुमको मनाते,
फिर सारे देवी देवता को बुलाते,
तेरे पूजा से सुभ‌ काम सब होता है,
तेरे ही पूजा में सुभ लाभ होता हैं,
आकर ये पूजा सफल मेरा कर दो,
आनंद के दाता आनंद भर दो,
आनंद के दाता आनंद कर दो……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह