( इक तू ना करे ते करे होर केड़ा, मेरी सबे जरूरतां पुरीयां नु,
लोकी तकदे ऐब गुनाह मेरे, ते मैं तकदा रहमता नु तेरीयां नु,
ते मैं तकदा रहमता नु तेरीयां नु॥ )

रहमता दे मीह बरसा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
रहमता दे मीह बरसा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
साडी वी झोली विच खैरा पा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
रहमता दे मीह बरसा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
रहमता दे मीह बरसा दातिये……

हुंदीयां ने पुरीयां मुरादा माये मेरीए नी तेरे दर तो,
आये जो सवाली कदे मुड़दे ना खाली माये तेरे घर तो,
सबना दी झोली खैरा पा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
रहमता दे मीह बरसा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
रहमता दे मीह बरसा दातिये……

जन्नत नसीब हुंदी अमीये रूहानी तेरा मुख वेखके,
घुप जांदे जन्मा दे पाप तेरे चरणा च मत्था टेक के,
दुखां ते कलेशा नु मिटा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
रहमता दे मीह बरसा दातिये, रहमता दे मीह बरसा,
रहमता दे मीह बरसा दातिये……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह