पूजूं मैं प्रथम तुमको,
पूजा मेरी स्वीकार करो,
हे दुख भंजन हे शिव नंदन,
मुझपे भी उपकार करो,
पूजा मेरी स्वीकार करो….

तुम विनायक सबके सहायक,
तुम ही हो सृजनहार,
समय बुरा ना आए उसका,
जो ध्याये तुमको बारंबार,
करूं वंदन मैं भी निस दिन,
सर से दुखों का भार हरो,
पूजूं मैं प्रथम तुमको,
पूजा मेरी स्वीकार करो….

ज्योतिर्मयी है छवि तुम्हारी,
करे नाश सब अंधकार,
विश्व के पालक तुम गणनायक,
तुम्हारे चरणों में खुशियों का अम्बार,
जोत अलख जगाऊं मैं निस दिन,
दूर मेरे भी मन के अंधियार करो,,
पूजूं मैं प्रथम तुमको,
पूजा मेरी स्वीकार करो….

आनंद हो तुम परमानंद हो,
हो सब सुखों का सार,
हे विघ्नहर्ता विघ्न तुम हरते,
भव से लगाते पार,
आकर थामों पतवार मेरी भी,
स्वामी मेरा भी उद्धार करो,
पूजूं मैं प्रथम तुमको,
पूजा राजीव की स्वीकार करो….

पूजूं मैं प्रथम तुमको,
पूजा मेरी स्वीकार करो,
हे दुख भंजन हे शिव नंदन,
मुझपे भी उपकार करो,
पूजा मेरी स्वीकार करो….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा
गौरी व्रत

गुरूवार, 11 जुलाई 2024

गौरी व्रत
देवशयनी एकादशी

बुधवार, 17 जुलाई 2024

देवशयनी एकादशी

संग्रह