[ सुनते हो तुम सब की विनती,
जो भी तुम्हे ध्याता है
सब से पहले मनाये तुमको
तो सब मंगल हो जाता है ]

बप्पा हो बप्पा – गणपति बप्पा
बप्पा हो बप्पा – गणपति बप्पा
तेरी जय जयकार लगाते हैं – जय जय गणराज
सारे जगत में सबसे, प्रथमें तुम्हें मनाते हैं

तेरे मूषक सवारी – गणपति बप्पा
लगे अति प्यारी – गणपति बप्पा
तेरी सूरत है न्यारी – गणपति बप्पा
मैंने दिल में उतरी – गणपति बप्पा
मन के मंदिर में तुझको बिठाते हैं – जय जय गणराज
सारे जगत में सबसे, प्रथमें तुम्हें मनाते हैं

तू विघ्न को हरता – गणपति बप्पा
तू मंगल करता – गणपति बप्पा
तू गजमुख दाता – गणपति बप्पा
तू है भाग्य विधाता – गणपति बप्पा
तुझे लड्डवन का भोग लगाते हैं – जय-जय गणराज
सारे जगत में सबसे, प्रथमें तुम्हें मनाते हैं

तुम हो शिव के दुलारे – गणपति बप्पा
गौरा मय्या के प्यारे – गणपति बप्पा
गिरधारी ने जाना – गणपति बप्पा
जिसने तुमको है माना – गणपति बप्पा
तो दुख उसके मिट जाते हैं – जय जय गणराज
सारे जगत में सबसे, प्रथमें तुम्हें मनाते हैं

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

नारद जयंती

शुक्रवार, 24 मई 2024

नारद जयंती
संकष्टी चतुर्थी

रविवार, 26 मई 2024

संकष्टी चतुर्थी
अपरा एकादशी

रविवार, 02 जून 2024

अपरा एकादशी
मासिक शिवरात्रि

मंगलवार, 04 जून 2024

मासिक शिवरात्रि
प्रदोष व्रत

मंगलवार, 04 जून 2024

प्रदोष व्रत
शनि जयंती

गुरूवार, 06 जून 2024

शनि जयंती

संग्रह