कलयुग में डंका बजता है दोनों देव महान है,
एक बाबा श्याम है दूजे हनुमान है…..

कलयुग में तो चलती देखो इनकी ही सरकार है,
हनुमान जी संकट मोचन,
श्याम जी लखदातार है दोनों की है महिमा न्यारी,
दोनों की है महिमा न्यारी दोनों बड़े बलवान है,
एक बाबा श्याम है दूजे हनुमान है,
कलयुग में डंका बजता है दोनों देव महान है,
एक बाबा श्याम है दूजे हनुमान है…

हनुमान ने हर संकट से तारा था प्रभु राम को,
श्याम ने शीश का दान दिया था, कृष्ण चंद्र भगवान को,
दोनों ने त्रिलोक पति से, दोनों ने त्रिलोक पति से,
पाया ये वरदान है, बाबा श्याम है दूजे हनुमान है,
कलयुग में डंका बजता है दोनों देव महान है,
एक बाबा श्याम है दूजे हनुमान है…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह