राम दीवाना हो मस्ताना, झूमे देखो बजरंगबली
बजरंगबली बजरंगबली, झूमे देखो बजरंगबली

श्री राम की धुन में रहता, हर दम ये मतवाला ।
पवन पुत्र है वीर बजरंगी, अंजनी माँ का लाला ।
इनके चरणों में रहकर के, साऱी विपदा टली टली ॥
राम दीवाना हो मस्ताना, झूमे देखो बजरंगबली…

सियाराम के सारे कारज, पल में ही सवारे।
सीता माँ की सुध लाये, और लखन के प्राण बचाये ।
रावण की लंका में पहुंचे देखो मच गयी है खाल बली ॥
राम दीवाना हो मस्ताना, झूमे देखो बजरंगबली…

इनकी कृपा पाना चाहो, राम नाम गुण गालो ।
राम बसे इनके हिर्दय में, तुम इनको हिर्दय में बसा लो ।
कलयुग में है इनके नाम की धूम मची है गली गली ॥
राम दीवाना हो मस्ताना, झूमे देखो बजरंगबली…

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा
कूर्म जयंती

गुरूवार, 23 मई 2024

कूर्म जयंती
नारद जयंती

शुक्रवार, 24 मई 2024

नारद जयंती
संकष्टी चतुर्थी

रविवार, 26 मई 2024

संकष्टी चतुर्थी
अपरा एकादशी

रविवार, 02 जून 2024

अपरा एकादशी

संग्रह