सच्चे मन से नाम श्याम का बोले जा तू,
बाबा ऐसी महर करेंगे, तेरे बिगड़े काम बनेंगे,
यही कहेगा तू……
चल खाटू, चल खाटू, चल खाटू तू चल खाटू…..

मेरे जब हालात बुरे थे कोई मेरे साथ ना आया,
रिश्ते नाते यार पुराने सबने ही मुझको ठुकराया,
जिस दिन से मैं खाटू आया, बाबा ने मुझको अपनाया,
अब मैं यही कहूं………
चल खाटू, चल खाटू, चल खाटू तू चल खाटू……

सारी दुनिया से जो हारे, उनको देता श्याम सहारे,
आया जो भी श्याम द्वारे हो गए उनके वारे न्यारे,
हारे का है श्याम सहारा, सारे भक्तों का है प्यारा,
मैं तो यही कहूं………….
चल खाटू, चल खाटू, चल खाटू तू चल खाटू……

खाटू ऐसा धाम निराला जाए कोई किस्मत वाला,
सोये भाग जगा दे बाबा, खुल जाये तक़दीर का ताला,
खाटू का तू टिकट कटा ले तू भी किस्मत को आज़मा ले,
चिंता ना कर तू……….
चल खाटू, चल खाटू, चल खाटू तू चल खाटू……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह