आया हार कर के बाबा दर मैं तुम्हारे,
बाबा दर मैं तुम्हारे,
कहते हैं दुनिया वाले तुम हो हारे के सहारे,
तुम हो हारे के सहारे,
आया हार कर के………..

सुनता हूँ देवों में है तू देव निराला,
जो भी शरण में आये किस्मत का खुलता ताला,
कर दो दया की दृष्टि बाबा बालक हम हैं तिहारे,
कहते हैं दुनिया वाले तुम हो हारे के सहारे,
तुम हो हारे के सहारे,
आया हार कर के………..

नैना मिला के बाबा नैनो से जादू करते,
शब्दों की ना ज़रूरत नैनो से दिल की पढ़ते,
लगता है अब तो बाबा संकट हरेंगे सारे,
कहते हैं दुनिया वाले तुम हो हारे के सहारे,
तुम हो हारे के सहारे,
आया हार कर के………..

अब तो शरण तुम्हारी मैं उम्र भर रहूँगा,
चरणों की तेरे सेवा दिन रात मैं करूँगा,
नैया भंवर में मेरी कर दो इसे किनारे,
कहते हैं दुनिया वाले तुम हो हारे के सहारे,
तुम हो हारे के सहारे,
आया हार कर के………..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह