जय जय जय श्री राम
जय जय जय श्री राम
चारो युगों के तुम प्रतापी बजरंगी बलशाली,
बजाये राम नाम की ताली,
जय जय जय श्री राम,
जय जय जय श्री राम…..

सतयुग में तुम रूद्र कहाये त्रेता में हनुमत बन आये,
द्वापर युग में हरी मिलन की तुमने आस लगा ली,
बजाये राम नाम की ताली,
जय जय जय श्री राम,
जय जय जय श्री राम…..

अजर अमर प्रभु गुण के सागर भर दो मेरी खाली गागर,
पवन पुत्र अंजनी के लाला करे भगत रखवाली,
बजाये राम नाम की ताली,
जय जय जय श्री राम,
जय जय जय श्री राम…..

कलयुग में है वास तुम्हारा मेहंदीपुर है सच्चा द्वारा,
जो कोई सच्चे मन से आता भरते झोली खाली,
बजाये राम नाम की ताली,
जय जय जय श्री राम,
जय जय जय श्री राम…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह