देरी ना कर पगले, सुमर ले राम नाम भाई,
राम नाम भाई सुमर ले राम नाम भाई,
राम के सुमरण से अनेको ने मुक्ति पाई,
देरी ना कर पगले, सुमर ले राम नाम भाई…..

राम नाम की दौलत प्यारे,
जमके दोनों हाथ कमारे,
सारे जतन बेकार राम का सुमरण सुखदाई,
देरी ना कर पगले, सुमर ले राम नाम भाई…..

इन साँसों की बना के माला,
राम भजन का हो मतबाला,
झूठे बेर खिलाये राम को तरी शबरी बाई,
देरी ना कर पगले, सुमर ले राम नाम भाई…..

तेरी कोठी तेरी हवेली,
बन जाएगी एक पहेली,
वो पहुँचा हरि के धाम राम महिमा जिसने भी गाई,
देरी ना कर पगले, सुमर ले राम नाम भाई…..

राम नाम को नावँ बनाले,
अपनी खोई मंजिल पा ले,
भूलन करो विचार करेगे पार रघुराई,
देरी ना कर पगले, सुमर ले राम नाम भाई…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

नारद जयंती

शुक्रवार, 24 मई 2024

नारद जयंती
संकष्टी चतुर्थी

रविवार, 26 मई 2024

संकष्टी चतुर्थी
अपरा एकादशी

रविवार, 02 जून 2024

अपरा एकादशी
मासिक शिवरात्रि

मंगलवार, 04 जून 2024

मासिक शिवरात्रि
प्रदोष व्रत

मंगलवार, 04 जून 2024

प्रदोष व्रत
शनि जयंती

गुरूवार, 06 जून 2024

शनि जयंती

संग्रह