मेरे आंगन आये राम संग लखन सिया हनुमान रे
मेरे आंगन आये राम

जय जय राम राम राम जय जय राम राम राम
जय जय राम राम राम जय जय राम राम राम

  1. रामसिया संग अवध मे आये सब भक्तो के मन हर्षाये
    दुल्हन सी सजी नगरी अयोध्या भारत वर्ष दिवाली मनाये
  2. राम कृप्पा से आनन्द छाया घर घर भगवा ध्वज लहराया
    रामराज्य की शोभा साज्य ढ़ोलक थाल नगाड़ा बाजे
  3. राम की जोत घर घर जली है कलयुग मे रघुरीती चली है
    कुंभ सा मेला लगा अवध मे साधु संत की टोली चली है
  4. संत सनातन युग है आया राम की अपरम्पार है माया
    मोदी राज मे ये दिन आया भारतवर्ष की पलटी काया
Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह