राम दिवाली आज है राम दिवाली
चौदह बरस के बाद अयोध्या ,लौटे हैं जगवाली।

अंधियारे पथ हुए उजियारे। बड़े प्रसन्न अयोध्या वारे।।
दुल्हन जैसी सजी अयोध्या ,शोभा बनी निराली -आज है…

दीप करोड़ों जाग रहे हैं। अनहद बाजे बाज रहे हैं।।
हर कोई झूमें नाचे गावे ,हर चेहरे पै लाली -आज है…

जित देखो तित लगा है मेला। राम-भरत मिलन की बेला।।
आनंद के घन बरस रहे हैं ,झूमें डाली डाली-आज है…

‘‘मधुप’’ राम गुण गात खुदाई। राम राज की ध्वज लहिराई।।
घर घर मंगल बजी बधाई ,छाई है खुशिहाली आज है… ।

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

नारद जयंती

शुक्रवार, 24 मई 2024

नारद जयंती
संकष्टी चतुर्थी

रविवार, 26 मई 2024

संकष्टी चतुर्थी
अपरा एकादशी

रविवार, 02 जून 2024

अपरा एकादशी
मासिक शिवरात्रि

मंगलवार, 04 जून 2024

मासिक शिवरात्रि
प्रदोष व्रत

मंगलवार, 04 जून 2024

प्रदोष व्रत
शनि जयंती

गुरूवार, 06 जून 2024

शनि जयंती

संग्रह