हे शिव शंकर हे करुणाकर हे परमेश्वर परम पिता,
हर हर भोले नमः शिवाय, नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय,
हे शिव शंकर हे करुणाकर….

हे शिव शम्भू संकट हरता,
विघ्न विनाशी मंगल करता,
जिस पर होवे कृपा तुम्हारी,
पल में विपदा दूर हो सारी,
तुम सुख सागर जगदीश्वर,
हे शिव शंकर हे करुणाकर……

देवादी देव जय महा देवा,
सुर नर मुनि सब करते सेवा,
नमः शिवाय मंत्र पंच अक्षर,
जिसने जपा खुश हो गए उस पर,
तुम हो दयालु हे भोलेश्वर,
हे शिव शंकर हे करुणाकर……

बम बम भोले डमरू बोले,
तुमने द्वार दया के खोले,
जो भी आया शरण तुम्हारी,
रक्षक बन गए तुम त्रिपुरारी,
त्रिशूल धर हे महाकालेश्वर,
हे शिव शंकर हे करुणाकर……

ब्रम्हा विष्णु ध्यान लगावे,
वेद पुराण शास्त्र यश गावे,
गिरिजा पति अनंत अविनाशी,
आनंद दाता विश्व प्रकाशी,
तुम सर्वेश्वर हे सोमेश्वर,
हे शिव शंकर हे करुणाकर……

पूजन किए श्री राम तुम्हारा,
लंका जीती रावण मारा,
दीनानाथ प्रभु सुख दाता,
औढर दानी भाग्य विधाता,
तुम रामेश्वर हे भक्तेश्वर,
हे शिव शंकर हे करुणाकर……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह