किवें मुखड़े तो नजरा हटावा,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
दिल करदा ए वेखी जावा,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
के तेरे जेहा होर कोई ना,
किवें मुखड़े तो नजरा हटावा……

मैं ते सारा ही जहान लोगो छान मारेया,
तेरे जेहा बच्चेया नु किसे वी ना तारेया,
सानु देदे चरणा दे विच थांह माँ,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
दिल करदा ए वेखी जावा,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
के तेरे जेहा होर कोई ना,
किवें मुखड़े तो नजरा हटावा……

मैया गुफा विच बैठी है तू सज धज के,
कर लैण दे दीदार मैनु रज रज के,
सोहणे मुखड़े तो वारी वारी जावा,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
दिल करदा ए वेखी जावा,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
के तेरे जेहा होर कोई ना,
किवें मुखड़े तो नजरा हटावा…….

सच आखा मेरा दुनिया च होर कोई ना,
तेरे वाजो मैनु किसे मिल दी वी लोढ़ ना,
तू ही दस हाँ माँ केड़ी थांह ते जावा,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
दिल करदा ए वेखी जावा,
माँ तेरे जेहा होर कोई ना,
के तेरे जेहा होर कोई ना,
किवें मुखड़े तो नजरा हटावा…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह