महाकाल तेरा नाम तो कमाल कर गया,
मैं तो जपते जपते मालामाल हो गया…..

जबसे लागी लगन तुमसे शंकर छूटी है मोह माया,
सारी दुनिया को छोड़ के बाबा मैं तेरे दर आया,
जबसे दर तेरे आया धमाल हो गया,
मैं तो जपते जपते मालामाल हो गया,
महाकाल तेरा नाम………..

मन के मंदिर में तू ही है जोगिया तू ही है घट घट में,
गम में तू ही है खुशियों में तू ही, तू ही है संकट में,
मेरे जीवन में तेरा ख़याल हो गया,
मैं तो जपते जपते मालामाल हो गया,
महाकाल तेरा नाम………..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

नारद जयंती

शुक्रवार, 24 मई 2024

नारद जयंती
संकष्टी चतुर्थी

रविवार, 26 मई 2024

संकष्टी चतुर्थी
अपरा एकादशी

रविवार, 02 जून 2024

अपरा एकादशी
मासिक शिवरात्रि

मंगलवार, 04 जून 2024

मासिक शिवरात्रि
प्रदोष व्रत

मंगलवार, 04 जून 2024

प्रदोष व्रत
शनि जयंती

गुरूवार, 06 जून 2024

शनि जयंती

संग्रह