उज्जैन की नगरीया है सुंदर बड़ी,
सुंदर बड़ी हो सुंदर बड़ी,
उज्जैन की नगरीया है सुंदर बड़ी…..

महाकाल को सब विराजते है यहाँ,
महाकाल को सब पूजते है यहाँ,
सारी दुनिया में इनकी शक्ति बड़ी,
उज्जैन की नगरीया है सुंदर बड़ी…..

याम की भी यहाँ पर चलती नहीं,
ज़िंदगी कभी यहाँ थमती नही,
दर्शन को भक्तो की भीड़ खड़ी,
उज्जैन की नगरीया है सुंदर बड़ी…..

संकट के आने से पहले ये देते है टाल,
सबकी रक्षा करते है मेरे महाकाल,
आये भक्तो के यहाँ भीड़ पड़ी,
उज्जैन की नगरीया है सुंदर बड़ी…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा

संग्रह