झाला देव जी श्याम थाने झाला देव जी,
हाथ हिलाकर भजन सुणाकर थाने रिझावे जी,
झाला देव जी श्याम…..

सज्यो है सांवरियो यो बैठ्यो मुस्कावे,
पलट जावे किश्मत नजर जो आ जावे,
प्रेम भाव स्यू नैंण मिलाकर थानें रिझावे जी,
झाला देव जी श्याम…..

चांद सो चमके मुखड़ो नजर में घुमे जी,
श्याम की मस्ती चढ़गी भगत सब झुमें जी,
नाच नाच कर हाथ उठाकर तालीं बजावे जी,
झाला देव जी श्याम…..

छप्पन थारा भोग बणाया जिमा बा थानें आया,
करे मनुहार सांवरा आज म्हार घरा पधारया,
करमा के धाबलिया क जया पड़दो लगायो जी,
झाला देव जी श्याम……

हारया को साथी बाबो यो लखदातार कुहावे,
सांवरो बिगड़ी किश्मत ओ सोया भाग जगावे,
दास भवानी सरणें आकर अर्जी लगावे जी,
झाला देव जी श्याम……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह