उज्जैन का राजा महाकाल राजा
बजता हे डमरू तो सजता हे राजा
उज्जैन का राजा महाकाल राजा …………..

1 भस्म लगाए गले सर्प माला
शीश गंगा गिराये , बागम्बर धारा
कालो का काल महाकाल राजा ..उज्जैन का राजा महाकाल राजा …………

2 शिव भोला मेरा औघड़ वाला
जो सबके मन की हर एक बात माना
दिन दयाला डमरू वाला , …..उज्जैन का राजा महाकाल राजा

३ न कोई राजा आया , न कोई दुहला
घोड़े चढ़ा जाये ना कोई सूरा
राजा यही हे दुहला यही हे …….उज्जैन का राजा महाकाल राजा

भजन थारा गाऊ महाकाल राजा
देना सहारा में आज पुकारा
धरम कहे बाबा जल्दी बुलाना
उज्जैन का राजा महाकाल राजा ……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह