गणपती जी को हम मनाएंगे,
चलो सखी मिलके,
चलो सखी मिलके हां चलो सखी मिलके,
गणपती जी को हम मनाएंगे,
चलो सखी मिलके।।

देखो गजानन की मूषक सवारी,
मूषक सवारी हांजी मूषक सवारी,
गणपती जी को हम मनाएंगे,
चलो सखी मिलके।।

सुख करता दुःख हरता जग में कहलाये,
जग में कहलाये देवा जग में कहलाये,
विघ्नो को पल में मिटायेंगे,
चलो सखी मिलके,
गणपती जी को हम मनाएंगे,
चलो सखी मिलके।।

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी

संग्रह