ओ माँ पहाड़ा वालिये,
सुन ले मेरा तराना,
सुन ले मेरा तराना,
सुन ले मेरा तराना,
ओ माँ पहाड़ा वालिये,
सुन ले मेरा तराना….

अपने हुए पराए,
दुश्मन हुआ जमाना,
कष्टो से मेरी मईया,
तू ही मुझे बचाना,
ओ माँ पहाड़ा वालिये,
सुन ले मेरा तराना….

फूलो में तुझको ढूंढा,
कलियों मे तुझको ढूंढा,
तू कही नज़र न आई,
ओ माँ पहाड़ा वालिये,
ओ माँ पहाड़ा वालिये,
सुन ले मेरा तराना…..

ओ मेरी शेरा वाली मईया,
मेरी जोता वाली मईया,
मेरे साथ है सर पे हाथ है….

ओ मेरी दुर्गे मईया काली,
मेरी मैहर वाली मईया,
मेरे साथ है सर पे हाथ है…..

सबकी सुने तू मईया,
राजा हो या फकीरा,
मेरी यही तम्मन्ना,
मेरा भी सुन तराना…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह