माँ अंजनी के लाला,
जपे तू राम की माला,
रूप तेरा है विशाला,
जपे तू राम की माला,
देवो में देव निराला,
माँ अंजनी के लाला,
जपे तू राम की माला……

राम की पूजा तुम करते,
प्रभु चरण में तुम हो रहते,
प्रिय राम का हाला,
जपे तू राम की माला,
देवो में देव निराला,
माँ अंजनी के लाला,
जपे तू राम की माला……

संकट तुम सबके हरते हो,
सबका ही मंगल करते हो,
अति बला को टाला,
जपे तू राम की माला,
देवो में देव निराला,
माँ अंजनी के लाला,
जपे तू राम की माला……

जो भी तेरी पूजा करता,
तेरे दर से खाली ना जाता,
राहुल का रखवाला,
अति बला को टाला,
जपे तू राम की माला,
देवो में देव निराला,
माँ अंजनी के लाला,
जपे तू राम की माला……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह