बाँके बिहारी कृष्ण मुरारी,
बांके बिहारी कृष्ण मुरारि,
मेरी बारी कहाँ छूपे,
दर्शन दीजो, शरण लीजो,
हम बलिहारी, कहाँ छुपे,
बाँके बिहारी कृष्ण मुरारी,
मेरे बारी कहाँ छुपे……

आँख मिचोली, हमें ना भाए,
जग माया के, जाल बिछाए,
रास रचाकर, बंसी बजाकर,
धेनु चराकर, प्रीत जगाकर,
नटवर नागर, निष्ठुर छलियां,
लीला न्यारी, कहाँ छुपे,
बाँके बिहारी कृष्ण मुरारी,
मेरे बारी कहाँ छुपे…….

जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,
जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,
जय जय कृष्णा जय कृष्णा जय कृष्णा,
जय जय कृष्णा जय कृष्णा जय कृष्णा,
जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,
जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,
जय जय कृष्णा जय कृष्णा जय कृष्णा……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह