घर में हमारे श्याम सुंदर एक बार आ जाओ,
दो पल के लिए तो सही इक बार आ जाओ,
घर में हमारे श्याम सुंदर एक बार आ जाओ……

पलकों पे रखेंगे दिल में बिठाएंगे,
स्वागत में तुम्हारे खुद को बिछाएंगे,
मेहमान नवाज़ी हमारी स्वीकारने आ जाओ,
दो पल के लिए ही सही एक बार आ जाओ,
घर में हमारे श्याम सुंदर एक बार आ जाओ……

शबरी के झूठे बेर आए थें तुम खानें,
मीरा से जो था प्रेम आये थे निभाने,
हम भी हैं प्रेम दीवाने एक बार आ जाओ,
दो पल के लिए ही सही एक बार आ जाओ,
घर में हमारे श्याम सुंदर एक बार आ जाओ……

ये प्रेम निवेदन है स्वीकार करो श्यामा
हम दास कहे हमपे उपकार करो श्यामा,
भक्तों का मान रखने सरकार आ जाओं,
दो पल के लिए ही सही एक बार आ जाओ,
घर में हमारे श्याम सुंदर एक बार आ जाओ……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह