सुनो ब्रिज दे लोको मेरा श्याम ग्वाचा नहियो लबदा….

मथुरा में ढूंढ आई गोकुल में ढूंढ आई,
मैं ढूंढ लिया जग सारा, मेरा श्याम ग्वाचा नहियो लबदा,
सुनो ब्रिज………

फूलो में ढूंढ आई कलियों में ढूंढ आई,
मैंने ढूंढा मधुबन सारा, मेरा श्याम ग्वाचा नहियो लबदा,
सुनो ब्रिज………

जंगलो में ढूंढ आई मंदिरो में ढूंढ आई,
मैंने ढूंढा निधिवन सारा, मेरा श्याम ग्वाचा नहियो लबदा,
सुनो ब्रिज………

गंगा में ढूंढ आई यमुना में ढूंढ आई,
मै ता ढूंढ लेया सागर सारा, मेरा श्याम ग्वाचा नहियो लबदा,
सुनो ब्रिज………

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह