कबूल मेरी विनती होनी चाहिये,
तेरे पागलों में गिनती होनी चाहिये…..

तेरे नाम का लेके सहारा,
चलता है परिवार हमारा,
कमी नही कोई होनी चाहिये,
तेरे पागलों में गिनती होनी चाहिये…..

तेरे सहारे चले जीवन नैय्या,
आप सम्भालो मन के खेवैय्या,
नैय्या मेरी पार बाबा होनी चाहिये,
तेरे पागलों में गिनती होनी चाहिये….

दुनिया की परवाह न कोई,
जो मरजी सानू समझे कोई,
नाम खुमारी चढ़ी होनी चाहिये,
तेरे पागलों में गिनती होनी चाहिये…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह