नमो नारायण नमो नारायण नमो नारायण रटता जा,
ॐ हरि ॐ हरि ॐ हरि ॐ हरि ॐ ॐ हरि ॐ हरि जपता जा……

नारायण वैकुंठ पति है, गल वैजंती माला है,
चरण कमल से गंगा निकली, चरणामृत को लेता जा,
नमो नारायण नमो नारायण नमो नारायण रटता जा……

तुलसी पत्र से भोग लगत है, शेष नाग की शैय्या है,
गरुड़ की असवारी सोहे, लक्ष्मी नाथ को रटता जा,
नमो नारायण नमो नारायण नमो नारायण रटता जा……

देवो को अमृत रस पाया, लीला अपरंपार तेरी,
मोहिनी रूप बनाया हरि ने, लीलाधर को रटता जा,
नमो नारायण नमो नारायण नमो नारायण रटता जा……

भागवत थारी महिमा गावे, गावे नर और नारी है,
ऐसे दीन दयाल मेरे दाता, नारायण को भजता जा,
नमो नारायण नमो नारायण नमो नारायण रटता जा……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह