नारायण नारायण नारायण,
भजले घडी दो घड़ी नायरण,
ये नाम बड़ा अनमोल बड़े मीठे इसके बोल,
नारायण नारायण नारायण….

ये जीवन की सचाई है मोह माया काम ना आइए है,
तूने पाप किये या पुण्य किये बस येही तेरी कमाई है,
नारायण नारायण नारायण…..

ये तुझपे निर्भर करता है तू भाव से भेज या भय से भज,
हर हाल में ठाकुर खुश होंगे,
तू प्रेम से भज या खीज के भज,
नारायण नारायण नारायण……

सांसो का भरोसा ना कर ना ना जाने कब रुक जाये,
कहे कल परसो के चाकर में हाथो से वक़्त निकल जाये,
नारायण नारायण नारायण,

कलयुग में हरी को पाने की नहीं इस से सरल कोई युक्ति,
कहता मोहित इतहास गवाह सिमरन से ही मिलती मुक्ति,
नारायण नारायण नारायण,

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह