जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
तीन लोक की माता तू है तीन लोक की दाता,
तीन लोक की माता तू है तीन लोक की दाता,
सबके कष्ट निवारण तू है तू ही भाग्य विधाता,
सबके कष्ट निवारण तू है तू ही भाग्य विधाता,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली……

धरती तू है अम्बर तू है तू ही तारागण में,
जगत भगत में तू है दाती तू ही सबके मन में,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली……

तू ही सहारा तू ही किनारा तू ही सबकी मंजिल,
तू ही मन मे तू ही तन में तू ही मंदिर जंगल,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली……

जल में तू है थल में तू है तू ही नाव चलईया,
पीर समुंद्र तू है दाती सबकी पार लगईया,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली……

पूर्व पश्चिम उत्तर दक्षिण तेरा रूप समाया,
दुर्गा तू है काली तू है तू ही योग माया,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली……

तू ही शारदा तू ही वैष्णो तू ही काली शक्ति,
तू ही अराधना तू ही पालना तू ही कामना मन की,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली,
जय हो आद्यशक्ति जय माँ दुर्गा काली……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह