शिव पारवती के गोदी में खेले गणेश
गोदी में खेले गणेश
गोदी में खेले गणेश
शिव पारवती के गोदी में खेले गणेश

सुध-बुध ज्ञान ध्यान के देवा
नित उठ करू तुम्हारी सेवा.
पूजा करु मैं हमेश
शिव पारवती के गोदी में खेले गणेश

मंगल मूर्ति सदा हितकारी
हम पर कृपा रखियो भारी
गल में जनेऊ शेष
शिव पारवती के गोदी में खेले गणेश

रिद्धि सिद्धि देवण दाता
शुभ लाभ भाग्य विधाता
संत कहवै रे हमेश
शिव पारवती के गोदी में खेले गणेश

नैया मेरी दगमग डोले
तेरे नाम पे चालक मोले
काम पड्यो परदेश
शिव पारवती के गोदी में खेले गणेश

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह