ना कोई भी तोड़ है, ना इनकी शक्ति का मोल हैं,
अंजनी के राज दुलारे , श्री राम के बड़े अनमोल है,
नाम से जिनकी मेरे हर विपदा हर बार टली,
वो है महाबली… वो है महाबली… बजरंगबली… वो है महाबली……

पवन तनय संकट हरण मंगल मूरत रूप,
राम लखन सीता सहित ह्रदय बसौ सुर भूप,
ॐ हं हनुमते नमो नमः, श्री हनुमते नमो नमः,
जय जय हनुमते नमो नमः, श्री राम दूताय नमो नमः……

एक कूद में समुंद्र को लांघे, भूत पिसाच भी धर धर कांपे,
सीने में बसे सिया राम जी, सुबह शाम बस राम को जापे,
मेरी सांसों पे हक जिनका जिनसे मेरी शान ढली,
वो है महाबली… वो है महाबली… बजरंगबली… वो है महाबली……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह