तर्ज:- U P वाला ठुमका लगाओ

खाटू वाली तालियां बजाओ….
खाटू वाली तालियां बजाओ, कि बाबाजी को प्रेम से रिझाओ ||
प्रेम से रिझाओ भग्तो, झूम के रिझाओ।
मीठे मीठे भजन सुनाओ, कि बाबाजी को प्रेम से रिझाओ।

बड़े दिनों बाद मिली ऐसी खुशहाली,
कीर्तन में आए देखो सेठ गिरधारी।
M P वाले भजन सुनाओ ,
कि बाबाजी को प्रेम से रिझाओ।
लंबे – लंबे हाथ उठाओ की बाबाजी को प्रेम से रिझाओ

परदे में बैठ के जब सजता सांवरिया,
दूल्हा सा बन गया मेरा सांवरिया।
कोई लून राई बाबाजी पे वारों ,
कि बाबाजी की नजर उतारो।
प्रेम से रिझाओ भग्तो , भाव से रिझाओ।
मीठी मीठी तालियां बजाओ की बाबाजी को प्रेम से रिझाओ ||

जो प्रेम से इनको भजन सुनाए,
फिर देखो बाबा उनकी किस्मत बनाए।
श्याम की जयकारे लगा लो,
कि बाबाजी को प्रेम से रिझाओ।
प्रेम से रिझाओ भगतो,नाच से रिझाओ।
खाटू वाली तालियां बजाओ की बाबाजी को प्रेम से रिझाओ।

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह