चलो री सखी, चलो री सखी,
चलो री सखी फागुन फाग मनाने,
चलो री सखी फागुन फाग मनाने,
नन्द गाँव गोकुल यमुना तट,
निधिबन या बरसाने,
चलो री सखी, चलो री सखी,
चलो री सखी फागुन फाग मनाने……

कुञ्ज कुंज छाई हरियाली,
फूल रही है डाली डाली,
कुञ्ज कुंज छाई हरियाली,
फूल रही है डाली डाली,
नाचे मोर चकोर पपीहा,
झूम पड़े मस्ताने,
चलो री सखी, चलो री सखी,
चलो री सखी फागुन फाग मनाने……

श्री वृंदावन रस की धारा,
यह रस लोचत है जग सारा,
श्री वृंदावन रस की धारा,
यह रस लोचत है जग सारा,
राधे राधे, गोविन्द राधे,
धुन में नाचे दीवाने,
चलो री सखी, चलो री सखी,
चलो री सखी फागुन फाग मनाने……

रंग रंगीला बरस रहा है,
मधुप बेचारा तरस रहा है,
थिरक रहे पांवों में घुंघरू,
नैनन प्यास बुझाने,
चलो री सखी, चलो री सखी,
चलो री सखी फागुन फाग मनाने…..

नन्द गाँव गोकुल यमुना तट,
निधिबन या बरसाने,
चलो री सखी, चलो री सखी,
चलो री सखी फागुन फाग मनाने……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह