कान्हा तोहै काऊ दिन मजा चखाय दूंगी,
मत फोड़े मेरी मटकी,
मत फोड़े मेरी मटकी,
मत फोड़े दही की मटकी,
कान्हा तोहै काऊ दिन मजा चखाय दूंगी…..

मटकी फोड़ अंगना में गिराऊ,
सखियन संग तेरे घर को जाऊं,
तोहै ओखल ते बंधवाए दूंगी,
मत फोड़े मेरी मटकी,
कान्हा तोहै काऊ दिन मजा चखाय दूंगी…..

एक कमरिया कारी टोपी,
रतन जड़ित आभूषण मोपे,
तेरी मैया को दिखला दूंगी,
मत फोड़े मेरी मटकी,
कान्हा तोहै काऊ दिन मजा चखाय दूंगी…..

गले को हरवा गेर जाऊं लाला,
फंसे फिरोगॆ सारे ग्वाला,
चोरी में नाम लिखा दूंगी,
मत फोड़े मेरी मटकी,
कान्हा तोहै काऊ दिन मजा चखाय दूंगी…..

तेरी मेरी प्रीत पुरानी,
तन्ने कान्हा ना पहचानी,
तोहै हृदय बीच बसाए लूंगी,
मत फोड़े मेरी मटकी,
कान्हा तोहै काऊ दिन मजा चखाय दूंगी…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह