मेरी सूख गई तुलसा पानी के बिना,
पानी के बिना राधा रानी के बिना……

ताजा पानी की भरी ए बाल्टी,
न्हावै ण श्याम राधा रानी के बिना,
मेरी सूख गई तुलसा पानी के बिना,
पानी के बिना राधा रानी के बिना…..

पाट पटंबर टरसी की धोती,
पहरै ना श्याम राधा रानी के बिना,
मेरी सूख गई तुलसा पानी के बिना,
पानी के बिना राधा रानी के बिना……

घिस घिस चन्दन भरी कटोरी,
तिलक ना लावै राधा रानी के बिना,
मेरी सूख गई तुलसा पानी के बिना,
पानी के बिना राधा रानी के बिना……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह