तर्ज – तुम्ही मेरे मंदिर

मेरी ज़िन्दगी को,
संभालो कन्हैया,
तुम्हारी ये नैया,
तुम्ही हो खिवैया……

ना दूजा कोई जो,
किनारे लगाए,
भवर दिख रहे है,
कही फ़स ना जाए,
सभी संकटो से,
तुम्ही हो बचइया,
तुम्हारी ये नैया,
तुम्ही हो खिवैया,
मेरी जिंदगी को,
संभालो कन्हैया,
तुम्हारी ये नैया,
तुम्ही हो खिवैया……

तुम्हारे भरोसे,
जिसकी हो नौका,
कभी आज तक तो,
खाया ना धोखा,
चले आओ अब तो,
बिगड़ी बनईया,
तुम्हारी ये नैया,
तुम्ही हो खिवैया,
मेरी जिंदगी को,
संभालो कन्हैया,
तुम्हारी ये नैया,
तुम्ही हो खिवैया…..

तुम्ही मेरे रक्षक,
तुम्ही देवता हो,
बिन्नू कहे तुम ही,
माता पिता हो,
तुम्ही से है यारी,
तुम्ही मेरे भैया,
तुम्हारी ये नैया,
तुम्ही हो खिवैया,
मेरी जिंदगी को,
संभालो कन्हैया,
तुम्हारी ये नैया,
तुम्ही हो खिवैया……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह