( तू ते जाणदा ऐ सब कुझ श्यामा,
दस्स की की सुनावा तैनू हाल मैं,
कुझ तैथों ना छुपेया ऐ श्यामा,
दस्स कीवे करां दुखां दा बखान मैं॥ )

दिल दियाँ गल्लां, दिल विच दबियाँ,
जाणदे ओ सब तुस्सी श्याम जी,
बिन बोलेया ही दिल दीयां अर्ज़ीयां,
सुण लैंदे ओ तुस्सी श्याम जी,
तैनू सबना दी ख़बर ऐ श्यामा,
तू श्याम मेरे जानी जान ऐं,
कुझ तैथों ना छुपेया ऐ श्यामा,
दस्स कीवे करां दुखां दा बखान मैं,
तू ते जाणदा ऐ सब कुझ श्यामा……

इस ज़िंदगानी दी ऐहो कहानी,
की मैं सुनावा ओ श्यामा,
अंदर मेरे घोर हनेरा,
की मैं दिखावा ओ श्यामा,
सब अग्गे है तेरे श्यामा,
चंगे मंदड़े दी तैनू पहचान ऐ,
कुझ तैथों ना छुपेया ऐ श्यामा,
दस्स कीवे करां दुखां दा बखान मैं,
तू ते जाणदा ऐ सब कुझ श्यामा……

करदा ना कोई इतनी परवाह,
जितनी ओ श्यामा करदा ऐ तू,
गुण अवगुण नु कदे ना परखदा,
भुल्ला नु श्यामा विसारदा ऐ तू,
कित्ती ‘नितिन’ ते किरपा तू श्यामा,
दित्ता जग विच इतना तू मान ऐ,
कुझ तैथों ना छुपेया ऐ श्यामा,
दस्स कीवे करां दुखां दा बखान मैं,
तू ते जाणदा ऐ सब कुझ श्यामा……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह