दुखो ने घेर लिया भक्त तेरा घबराया है,
जय जय माँ
मैया खोल दे दरवाजा तेरा सेवक आया है,
मैया खोल दे दरवाजा तेरा सेवक आया है,
दुखो ने घेर लिया…..

तेरे दर दा रस्ता भूला क्या अनहोनी होई,
क्या अनहोनी होई
चारो ओर अन्धेरा छाया माँ आज बचा ले कोई,
आज बचा ले कोई
तुझे सबने दीन दयालु तारनहार बताया है,
मैया खोल दे दरवाजा तेरा सेवक आया है,
दुखो ने घेर लिया……

गहरा ससांर समुन्द्र जीवन नाव पुरानी,
जीवन नाव पुरानी
डगमग डगमग डोल रही है सुन ले मात भवानी,
सुन ले मात भवानी
सब पापीयो का बेड़ा तुने पार लगाया है,
मैया खोल दे दरवाजा तेरा सेवक आया है,
दुखो ने घेर लिया……

कर आये पाप पुराने माँ अब तो बनो सहाई,
अब तो बनो सहाई
भाई बन्धु कुटुम्भ कबीला सभी ने आँख दिखाई,
सभी ने आँख दिखाई
अब तेरा सहारा मैया तीनो लोको ने पाया है,
मैया खोल दे दरवाजा तेरा सेवक आया है,
दुखो ने घेर लिया……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह