मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

आसपास या को मंदिर नहीं है,
दूर कलकत्ता में जाऊं कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

ता ता ता ता पानी भरी रे बाल्टी,
नहावे नहीं काल का नवम कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

पांच रंग चुनरिया इसे नहीं भावे,
काली काली साड़ी मैं लाऊं कहां से,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

मोतियन माला इसे नहीं भावे,
मुंडो की माला मैं लाऊं कहां से,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

लाल लाल मेहंदी इसे नहीं भावे,
भाल तलवार मैं लाऊं कहां से
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

बजनी पायल इसे नहीं भाव में,
मोटे मोटे घुंघरू मैं लाऊं कहां से,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

मेवा मिष्ठान इसे नहीं भावे,
खप्पर मैं लाऊं कहां से,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे,
मंदिर जली रोशनी बुझाओ कैसे,
मेरी रूठ रही कालका मनाऊं कैसे……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह