प्रेम के भावों से तुमको मैया जी तोल देंगे हम,
तेरे स्वागत में दरवाजा ये दिल का खोल देंगे हम,
प्रेम के भावों से……

बड़े ही चाव से हमने तेरा ये दर सजाया है,
तेरे आने की खुशयों में तेरा ये दर सजाया है,
तेरे भजनों में मैया जी मिश्री घोल देंगे हम,
तेरे स्वागत में दरवाजा ये दिल का खोल देंगे हम,
प्रेम के भावों से……

तेरी इस प्यारी चितवन को मैया जी हम भी देखेंगे,
लिपटकर पावन चरणों से मैया जी हम भी देखेंगे,
छिपी है जो दिल में है बातें तुम्ही से बोल देंगे हम,
तेरे स्वागत में दरवाजा ये दिल का खोल देंगे हम,
प्रेम के भावों से……

बड़ी उम्मीद से आई मैया जी तोड़ न देना,
तेरे दर्शन की आशा है यूँ खाली मोड़ न देना,
तुझे माँ प्यार का तोफहा बड़ा अनमोल देंगे हम,
तेरे स्वागत में दरवाजा ये दिल का खोल देंगे हम,
प्रेम के भावों से……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह