मेरे सारे धाम करा दे भोले रट लूंगी राम…..

पहला धाम मात पिता की आज्ञा,
सास ससुर की सेवा करा दे, भोले रट लुगी राम,
मेरे सारे धाम करा दे भोले रट लूंगी राम…..

दुजा धाम मेरा गंगा और जमुना,
मुझे उसका नहान करा दे, भोले रट लुगी राम,
मेरे सारे धाम करा दे भोले रट लूंगी राम…..

तीजा धाम मेरा बाग बगीचा,
उसमें फूल खिला दे, भोले रट लुगी राम,
मेरे सारे धाम करा दे भोले रट लूंगी राम…..

चौथा धाम मेरा मोह और माया,
मेरा उससे मोह छुड़ा दे, भोले रट लुगी राम,
मेरे सारे धाम करा दे भोले रट लूंगी राम…..

पांचवा धाम मेरा देवी दर्शन,
मुझे उसके दरस करा दे, भोले रट लुगी राम,
मेरे सारे धाम करा दे भोले रट लूंगी राम…..

छठवां धाम मेरा गुरुजी का सत्संग,
मुझे सत्संग बीच बैठा दे, भोले रट लुगी राम,
मेरे सारे धाम करा दे भोले रट लूंगी राम…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

नारद जयंती

शुक्रवार, 24 मई 2024

नारद जयंती
संकष्टी चतुर्थी

रविवार, 26 मई 2024

संकष्टी चतुर्थी
अपरा एकादशी

रविवार, 02 जून 2024

अपरा एकादशी
मासिक शिवरात्रि

मंगलवार, 04 जून 2024

मासिक शिवरात्रि
प्रदोष व्रत

मंगलवार, 04 जून 2024

प्रदोष व्रत
शनि जयंती

गुरूवार, 06 जून 2024

शनि जयंती

संग्रह