तर्ज – कस्मे वादे प्यार वफ़ा सब

शिव का नाम सदा सुखदाई,
जपले हरी ॐ नमः शिवाय,
जपले इसमें नफा है तेरा,
तेरे दुःख दारिद्र भगाए,
शिव का नाम सदा सुखदाई,
जपले हरी ॐ नमः शिवाय…..

भोला भाला,
भोला भाला डमरू वाला,
कैलाशी अविनाशी है,
चप्पे चप्पे में रहता है,
ये घट घट का वासी है,
दुखियों के,
दुखियों के संताप ये हरता,
शिव शंकर सुखराशि है,
शिव का नाम सदा सुखदायी,
जपले हरी ॐ नमः शिवाय…..

जपते जपते,
जपते जपते महामंत्र को,
तू पवित्र हो जाएगा,
धीरज रखना अपने दिल में,
एक दिन ऐसा आएगा,
औघड़दानी,
औघड़दानी सामने होंगे,
और तू दर्शन पाएगा,
शिव का नाम सदा सुखदायी,
जपले हरी ॐ नमः शिवाय…..

प्रेम से मिलकर,
प्रेम से मिलकर बम बम बोले,
शिव भक्तो की अर्जी है,
‘बिन्नू’ कहता बात मान ले,
आगे तेरी मर्जी है,
जग वाले,
जग वाले गुमराह न कर दे,
दुनिया तो खुदगर्जी है,
शिव का नाम सदा सुखदायी,
जपले हरी ॐ नमः शिवाय……

शिव का नाम सदा सुखदाई,
जपले हरी ॐ नमः शिवाय,
जपले इसमें नफा है तेरा,
तेरे दुःख दारिद्र भगाए,
शिव का नाम सदा सुखदाई,
जपले हरी ॐ नमः शिवाय……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह