गणपति देवा मेरे गणपति देवा
माता तेरी पार्वती, माता तेरी पार्वती
पिता महादेवा, गणपति देवा मेरे गणपति देवा

विघ्न हरण देवा तू कहलाता
सिद्ध कारज होंवे उसके, प्रथम जो भी ध्याता,
चरणों में आए हम करने तेरी सेवा
गणपति देवा मेरे गणपति देवा।

देवों में देव प्रभु तू है निराला
शिव का दुलारा तू है गौरा जी का लाला,
भोग है प्रिय तुम्हें, मोदक मेवा
गणपति देवा मेरे गणपति देवा

रिद्धि सिद्धि संग मेरे घर में पधारो
चरणों की दासी ’भाषा’ काज संवारो
हर दिन हर पल बप्पा करें तेरी सेवा
गणपति देवा मेरे गणपति देवा

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह