लाज बचाने वाले मेरी बिगड़ी बनाने वाले,
तू ही तू ही तू है श्याम तू ही तू ही तू है…..

जब जब भी विपदा आये मुझको संभाले तू,
बीच भवर से बाबा मुझको निकाले तू,
बन के खिवैया मेरा मुझे पार लगाता तू,
तू ही तू ही तू है श्याम तू ही तू ही तू है……

हार के जो भी आया दिया सहारा है,
हारे का सहारा बाबा श्याम हमारा है,
बिन माझी के बाबा पतवार चलाये तू,
तू ही तू ही तू है श्याम तू ही तू ही तू है……

कलयुग का दाता तू ही तू ही सहारा है,
हारे का सहारा बाबा श्याम हमारा है,
तेरी चौखट बाबा अब मेरा ठिकाना है,
तू ही तू ही तू है श्याम तू ही तू ही तू है……

तेरा ही प्रेमी बाबा तूने बनाया है,
विनि दीवाना तेरे दर पर आया है,
हर ग्यारस को बाबा बस तूने बुलाया है,
तू ही तू ही तू है श्याम तू ही तू ही तू है…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह