मन में श्याम बसा है मन में श्याम बसेगा,
मैं हूँ श्याम दीवाना जय श्री श्याम कहूंगा……

खाटू की पावन गलियों में गूँज रहा जयकारा,
हारे का भक्तों हैं बाबा श्याम ही एक सहारा,
हाँ श्याम ही एक सहारा,,
हम सब मिलके गायें श्याम धणी की किरपा,
मैं हूँ श्याम दीवाना जय श्री श्याम कहूंगा…..

श्याम धणी की जय जय बोलो हर एक कष्ट मिटेगा,
तुम भी जय बाबा की बोलो मन को चैन मिलेगा,
हाँ मन को चैन मिलेगा,,
तेरी महिमा न्यारी पूजे है नर नारी,
मैं हूँ श्याम दीवाना जय श्री श्याम कहूंगा……

श्याम नाम की मस्ती में है एक ऐसा जादू,
तेरे बारे में ही सोचू होता मन बेकाबू,
हाँ होता मन बेकाबू,,
देव दिनेश के ऊपर तू ही किरपा करता,
मैं हूँ श्याम दीवाना जय श्री श्याम कहूंगा………

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह