तर्ज – सावन का महीना

ना डिस्को जाएंगे,
ना होटल जाएंगे,
नया साल साँवरिया,
तेरे दर पे मनाएंगे,
ना डिस्को जायेंगे,
ना होटल जाएंगे,
नया साल साँवरिया,
तेरे दर पे मनाएंगे…..

मीठे मीठे भजनों से,
तुझको रिझाए,
साँवली सूरत पे कान्हा,
दिल को लुभाए,
तेरी मोरछड़ी का,
झाड़ा लगवाएंगे,
नया साल साँवरिया,
तेरे दर पे मनाएंगे…..

भजनों की धुन पे यूँ,
ठुमके लगाए,
दुनिया के सारे दुःख,
हम भूल जायेंगे,
खुद तो नाचे बाबा,
तुझको भी नचाएंगे,
नया साल साँवरिया,
तेरे दर पे मनाएंगे…….

ना डिस्को जाएंगे,
ना होटल जाएंगे,
नया साल साँवरिया,
तेरे दर पे मनाएंगे,
ना डिस्को जायेंगे,
ना होटल जाएंगे,
नया साल साँवरिया,
तेरे दर पे मनाएंगे…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह