तर्ज – तेरी बंजारन रस्ता देखे कब आएगा

ओ यशोमती मैया, तेरा ये कन्हैया,
मेरी फोड़ गया गागरिया,
बात ना माने, किशन कन्हैया,
मेरी फोड़ गया गागरिया,
मेरी फोड़ गया गागरिया……

दही माखन की लेके मटुकिया,
मथुरा को हम निकले जो सखियां,
जोरा जबरी करे श्याम नित,
लूट ले माखन दहिया,
मेरी फोड़ गया गागरिया……

ग्वाल बाल की फौज ले आये,
हमको डराए और धौंस दिखाए,
छीन झपट दे मटकी पटक,
और नाचे ताता थैया,
मेरी फोड़ गया गागरिया……

समझ ना भोला इसको ओ मैया,
पनघट पे भी मेरी पकड़े है बैयां,
जमुना किनारे छुप छुप करके,
मारे है कंकरिया,
मेरी फोड़ गया गागरिया…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह