जमाने में ममता की कीमत न होती,
अगर मां न होती अगर मां न होती,
बच्चों के जीवन में खुशियां न होती,
अगर मां न होती अगर मां न होती….

दुनियां में ममता की पहचान मां है,
मां से ही पैदा ये सारा जहां है,
मानव के जीवन की जलती न ज्योति,
अगर मां न होती अगर मां न होती……

नौ मास अपने उदर में छुपाया,
लगाकर कलेजे से दूध पिलाया,
सुखे में सुलाकर खुद,सूखे में सोती,
अगर मां न होती अगर मां न होती…..

गमे हाल दिल का कहे हम तो मां से,
करेंगे न शिकवा कभी झूठे जहां से,
बच्चो के दिल में मां की धड़कन न होती,
अगर मां न होती अगर मां न होती,
जमाने में ममता की कीमत न होती,
अगर मां न होती अगर मां न होती……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह